खुद से कम खूबसूरत दिखने वाले मर्दों से क्यों शादी करती हैं महिलाएं?

आजकल किसी की भी शादी हो पाना इतना आसान नहीं हो पता, एक ज़माना था जब माँ बाप ही बच्चों की शादी तय कर दिया करते थे और बच्चों को भी कोई ख़ास दिक्कत नहीं होती थी, लेकिन देखते-देखते ज़माना एडवांस होता गया, रिश्तों को तरजीह देने की बजाय प्रैक्टिकल और पोलिटिकल थिंकिंग ने जगह बना ली। आजकल लड़के लड़की शादी करने से पहले खुद कई बार परख लेते हैं क्युकी जिससे शादी करने जा रहे हैं वो आगे चल कर धोका तो नहीं नहीं देगा?

अगर लड़कियों की बात किय जाये तो लड़किया आज कल शादी से लड़कियां लड़कों में बहुत सारी खूबियां देखती यहीं जैसे, लड़का लाखों रूपए महीने में कामनाता हो, माँ बाप से दूर रहता हो, खुद का मकान हो गाड़ी हो और तो दिखने में भी हीरो टाइप हो, ऐसे बहुत सारे मुंगेरी लाल के हसीं सपने लड़किया अक्सर देखा करती हैं भले ही जीवन में कुछ न किया हो! हमारा मकसद किस भी महिला को नीचा दिखाना नहीं है लेकिन हम बात करे हैं प्रैक्टिकल थिंकिंग की।

ऐसा भी देखा गया है की आजकल लड़कियां ज़ादा खूबसूरत मर्दों को न पसंद कर के कम सुन्दर मर्दों से शादी करना ज़ादा पसंद करती हैं, कुछ कारण पता लगे है कि लड़किया ऐसा क्यों करती। ऐसा इसलिए होने लगा क्यूँकि अगर लड़का ज़ादा सुन्दर होगा तो अपनी बीवी को ज़ादा भाव नहीं देगा और समय बीतते बीतते किसी और लड़की के चक्कर में फास जायेगा जो बीवी से ज़्यादा सुंदर होगी। इसके अलावा लड़का अगर लड़की से कम सुंदर होगा तो अपनी बीवी को किसी दुसरे की बीवी से कम्पेयर भी नहीं करेगा, और कम सुन्दर पति सुंदर बीवी पाकर खुद को खुशकिस्मत समझता और उसे रानी की तरह रखता है।

वैसे भी आजकल शादियां कोई शादियां न होकर बिज़नेस हो गयी हैं, सारे नियम और शर्ते रख कर रिश्ते तय किए जाते हैं। जहां नियम और शर्ते आ जाये वह सामंजस्य नाम की कोई ज़ही नहीं रह जाती, वह प्यार नहीं बल्कि मतलब के लिए लड़का-लड़की एक दुसरे के साथ रहते हैं।

You May Also Like