परिजनों ने अपने ही 13 बच्चों को वर्षों से बांध रखा था जंजीर में – वजह चौंका देंगी

कहते हैं भगवान के बाद अगर कोई बच्चों के बारे में अच्छे विचार अपने मन मे रखता है और उसके साथ ही आपकी अच्छे तरीके से देखभाल करता है तो वह आपके और हमारे माता पिता ही होते है। हर एक सुख दुख में आपका दामन न छोड़ने वाले पिता और माता के बारे में तो आपने कई बार सुना होगा पर आज हम इससे थोड़ा हटकर एक ऐसी घटना के बारे में बताने जा रहे है जिसे सुनने के बाद आप इस सोच में पड़ जाओगे की भला ऐसा कोई कैसे कर सकता है। तो चलिये बताते है आपको इस घटना के बारे में विस्तार से…

आज की दिल दहला देने वाली यह खबर विश्व के सुपर पावर देशों में से एक अमेरिका के कैलिफोर्निया से आ रही है। मीडिया में आ रही खबरों की माने तो एक माता पिता ने हाल में ही अपने 13 साल के बच्चे को बेहद ही बेरहम तरीके से मौत के घाट उतार दिया। बेहद ही क्रूर तरीके से किये गए इस मर्डर की खबर को सुनने के बाद हर कोई हैरान है। हालाँकि यह पहली ऐसी घटना नही है जिसमे बेहद ही क्रूर तरीके से माता पिता ने एक मासूम को मार डाला हो इससे पहले भी कई सारी घटनाएं घटती हो चुकी है।

यहाँ और पढ़ें :- 99% लोग टीबी की बीमारी के इस सच से है अनजान, अभी जाने वरना हो सकती है देर 

जन्म से ही बनाया था बंदी

मीडिया में आ रही रिपोर्ट्स के मुताबिक कैलिफोर्निया शहर के निवासी 57 साल के डेविड और 49 साल की उनकी पत्नी एलेन नेअपने ही बच्चे को जन्म के बाद से घर मे कैद कर रखा था। घर मे कैद करने के साथ ही उन दोनों दंपति ने अपने बच्चे के साथ बेहद क्रूरतापूर्ण व्यवहार को भी अंजाम दिया करते थे। इसके अलावे वह बच्चे को भर पेट भोजन भी खाने को नही देते थे जिस वजह से वह लड़का कुपोषण का शिकार हो गया था और उसकी हालत बेहद ही बदतर हो गयी थी।

यहाँ और पढ़ें :- अगर आप भी करते हैं ये 10 काम, तो नही बन पाएंगे फ्यूचर में ‛बाप’ 

बच्चों को बनाते थे शिकार

एक दाम्पत्य जीवन का सुख प्राप्त करने वाले इस परिवार के बारे में यह खबर भी मीडिया के सामने आ रही है कि इस दंपति ने न केवल इस बच्चे को बल्कि इसके जैसे कई और बच्चो को भी अपने घर के अंदर कैद कर रखा था जिसमे की अमूमन हर एक बच्चे की उम्र 2 से 29 साल के बीच की थी। घर के अंदर पलंग में जंजीर लगाकर बच्चो को कैद करने वाली ऐसी घटना को सुनने के बाद उनके आसपास रहने वाले लोग भी काफी आश्चर्यचकित है। उनके मुताबिक उन्हें इस बात की भनक आज से पहले कभी लगी ही नही की जहाँ वह राह रहे है वही आसपास ऐसी निर्दयी घटना को अंजाम दिया जा रहा है।

पुलिस के मुताबिक उन्हें इस घटना की सूचना उस वक़्त हाथ लगी जब उस घर मे ही कैद कर रखे गए उन बच्चों में से एक बच्चे ने किसी तरह एक दिन घर से बाहर भागने में कामयाब हो पाया। घर से छूटने के बाद बच्चे ने सबसे पहले पुलिस को कॉल कर घटना की जानकारी दी। जिसके बाद पुलिस ने तुरंत कार्रवाई कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया और उन्हें अपने जुर्म की सज़ा दिलाने के लिए कोर्ट के सामने पेश किया।

Source

You May Also Like