यहाँ चूहे खा जाते हैं लोगो के पैरों की उंगलियां, लेकिन कैसे!

आजकल चाहे आप सोशल मीडिया पर जाएँ या अख़बार पढ़े हर जगह आपको दिल दहला देने वाली कोई न कोई क्राइम की खबर मिल ही जाएगी. इंसान में इंसानियत नाम की चीज़ नहीं रह गयी है. लेकिन आज हम किसी क्रिमिनल की बात नहीं कर रहे हैं. हम बात कर रहे हैं खूंखार चूहों के बारे में. मध्य प्रदेश में कलेजा कपा देने वाला मामला सामने आया है, यहाँ चूहों ने आतंक मचाया हुआ है.

यहाँ चूहे घर में सो रहे ज़िंदा इंसानो का मांस खा जाते हैं. मिली जानकारी के मुताबिक हामीखेड़ी गाँव में रहने वाले 250 में करीब 50 की उम्र की ऊपर के लोग कुष्ठ यानी कोढ़ जैसे गंभीर रोग के शिकार हैं. इस घातक बीमारी के कारण इन सबके हाथ पैर की उँगलियाँ सिकुड़ गयी हैं और इनका शरीर भी सुन्न पड़ता जा रहा है. अगर इन रोगियों को सुई भी चुभो दी जाये तो इनको ज़रा भी पता नहीं चलता. यही एक वजह है  जब रात में चूहे इनकी उँगलियाँ खा जाते हैं तो इन्हे इसका पता नहीं चलता.

इसी गाँव की निवासी मूंगबाई इसी घातक रोक की शिकार हैं, उनका शरीर भी कुष्ठ रोग के कारण सुन्न पड़ चुका है, इस वजह से उन्हें किसी स्पर्श का न तो एहसाह होता है और न ही किसी भी प्रकार का दर्द होता है. मूंगबाई बताती हैं एक रोज़ जब सुबह उठी तो उनके दाएं पैर की दो उँगलियाँ ही नहीं थी. पैर पर हुए घाव के पास मक्खियां भिनभिना रही थीं. मूंगबाई के हाथ पैरों के घाव धीरे-धीरे बढ़ते चले गए और मांस गायब होता गया.

इसी गाँव के निवासिओं का यह भी आरोप है कि यहाँ कोई डॉक्टर नहीं है जिससे वह इस गंभीर समस्या का इलाज करवा सकें. एक डॉक्टर था वो भी रिटायर हो गया है, उसके रिटायर होने के बाद यहाँ कोई भी डॉक्टर नहीं आया.

You May Also Like