वेश्या की तलाश में कोठे पर जा पहुँचा लड़का,वहाँ मिल गई उसे अपनी बहन– फिर हुई होश उड़ाने वाली बात!

आज की इस अजीबोगरीब घटना के बारे में सुनकर आप सर पकड़ने वाले हैं क्योंकि ना ही ऐसा मामला कभी देखा होगा ना ही सुना होगा. भारत मे भी हवस के पुजारियों की कमी नही जो आने सेक्स की भूख कहत नही होने पर कोठे और वैश्याओं की तरफ रुख मोड़ते हैं. आज हम एक लड़के के बारे में बताने जा रहे हैं जो गोरी चमड़ी का शौकीन तो था ही पर आज वह रेड लाइट एरिया में अपनी हवस की भूख मिटाने चला था. वहां पहुंचने के बाद उसके साथ ऐसी घटना हो गयी जिसकी वह कभी कल्पना भी नही कर सकता.

वह जैसे ही एक वेश्या को कमरे में लेकर रंगरलियां मनाने पहुंचा 2 मिनट बाद ही कमरे से भागता हुआ सीधे पुलिस स्टेशन जा पहुंचा और उनकी मदद से उस लड़की को उस गंदगी से निकाल लिया. मामले को देखकर आप समझ रहे होंगे कि कोई अनजान शख्स ऐसा क्यों करेगा लेकिन हम बता दें कि वह लड़की कोई और नही बल्कि उस जवान लड़के की बहन ‛प्रतिमा’ थी जिसे उसकी हवस की भूख मिटाने के लिए उस कमरे में भेजा गया था. आगे जानिए पूरा मामला…

वैश्या निकली उस शख्स की बहन

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह मामला बिहार के बेगूसराय जिले का है. रेड लाइट एरिया से बचाकर लायी गयी प्रियंका बताती है कि आज से 3 साल पहले अशोक खलीफा नामक शख्स ने उसे प्यार के झांसे देकर बखरी ले गया और उसे देह धंधा में लिप्त कर दिया. लेकिन एक दिन ऐसा हुआ कि उसके गांव का फेरीवाला भी उसी रेड लाइट एरिया में पहुंचा जहां प्रतिमा काम करती थी. उसने पहली नजर में ही उसे पहचान लिया और लड़की ने भी उसे पहचान लिया जिसके बाद वह जोर-जोर से रोने लगी। फेरीवाले ने उसे सांत्वना देते हुए कहा कि मैं यह बात तुम्हारे घरवालों को बताऊंगा और वादा करता हूँ कि इस गंदगी से जरूर निकाल लेंगे हम.

निभाया एक भाई का फर्ज

फेरीवाला अपनी बयान में बताता है कि एक दिन वह ग्राहक के तौर पर अशोक के पास पहुंचा था जिसे सस्ती रेट में 2 लड़कियां दखाई गयी. पहली नजर में ही वह प्रतिमा को पहचान चुका था इसलिए उसने मुहबोली बहन प्रतिमा को ही सेलेक्ट किया और उसे लेकर कमरे में पहुंच गया. सबको लग रहा था कि ये उसके साथ संबंध बनाएगा लेकिन कमरे के 5 मिनट गुजारने के बाद वह भागकर पुलिस स्टेशन पहुंचा और ऑसि बात की शिकायत कर दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उस लड़की को रेड लाइट एरिया से निकाल लिया है और मेडिकल जांच के लिए भेज दिया गया  आरोपी अशोक अभी भी फरार जा लेकिन कोर्ट में यह साबित हो चुका है कि ये वही लड़की है जो उस परिवार की बेटी थी. फिलहाल वह इस शर्मनाक जिंदगी से आजाद हो चुकी है.

प्रतिमा तो इस बाजार जिंदगी से आजाद हो गयी लेकिन आज भी करोड़ो लड़कियां इस देह धंधे का शिकार है और एक भाई और बाप का इंतजार कर रही है जो इस दलदल से निकाल सके. आपको पता होना चाहिए कि इस देश मे कई बड़े रेड लाइट एरिया हैं जहां करोड़ो की तादाद में वैश्याएं काम करती हैं. उनमें सभी अपने मर्जी से काम नही करती बल्कि कुछ धोखे से और कुछ खरीदकर लायी जाती है. देश के बड़े वैश्यानगरो में से ये प्रमुख हैं – सोनागाछी, कमाठीपुरा, मीरगंज व जीबीरोड.

Source

You May Also Like