बड़ी ख़बर: एक बार फिर से महिला को बीच राह में किया गया नंगा, आखिर ये जुल्म कब तक चलेगा?

विकास की ओर अग्रसर हमारा देश मिसाइल बना चुका है, रोज संविधान में महिलाओ के संरक्षण को लेकर नए बिल पास होते हैं, अभी हाल ही में चले तीन तलाक का मुद्दा भी स्त्रियों की सुरक्षा पर ही आधारित था. लेकिन इन सबके बावजूद भी महिलाएं इस खुले समाज मे सुरक्षित नही हैं क्योंकि आये दिन रोज ऐसे अपराध होते हैं और कानून की ऐसी की तैसी कर देते हैं. पीड़िता का असली बलात्कार तो तब होता है जब आरोपी को सजा देने की बजाय कोर्ट और पुलिस पैसो के सामने अपना ईमान बेचकर उसे जेल से भी रिहा कर देते हैं. आज का मामला भी कुछ ऐसा ही जब सारे कानून धरे के धरे रह गए और एक अबला के साथ इतना घिनौना काम हुआ, चलिये जानते हैं पूरा मामला…

बात इस समाज की करें तो यह भी उतना ही दोषी है जितना की एक बलात्कारी होता है. यहां घटना हो जाने के बाद सांत्वना देने के लिए सभी जुट जाएंगे लेकिन सिस्टम पर जरा भी फर्क नही पड़ता. कुछ दिनों तक खूब शोर-शराबा होता है लेकिन 10 दिनों बाद किसी को वह मामला याद भी नही रहता, याद तब आता है जब किसी अपने परिवार के सदस्य पर वही पीड़ा आन पड़ती है. समाज की ओर बाद में उंगली उठाएंगे लेकिन अगर किसी स्त्री का पति ही उसके आबरू को नीलाम कर दे तो किसी स्त्री को कैसा लगेगा? आज की इस हैवानियत भरी घटना ने तो जैसे दिल दहला दिया.

दाव पर लगाया अपनी पत्नी को

दरअसल यह मामला इंदौर के है जहां एम महिला अपने पति और बच्चों के साथ सुखी जीवन व्यतीत कर रही थी. उसके पति में सबसे बड़ा दोष यह था कि वो पेशे से एक जुआरी है. एक ऐसा जुआरी जो जुआ खेलते समय किसी भी चीज़ की वैल्यू नही समझता. खबर से पता चलता है कि उसने घर के सभी कीमती सामान इसी तरह जुआ में लगा चुका है. लेकिन हद तो तब हो गयी जब उसने जुए में अपनी पत्नी को ही दाव पर लगा दिया और हार गया.

पति के सामने हुआ बलात्कार

कितना निर्मम होगा एक पुरुष जो दूसरे घर से ब्याह कर लायी हुई स्त्री का भी सम्मान नही कर सका जबकि उसके 2 बच्चे भी थे. लेकिन उसने जुए की लत में अपने परिवार के सदस्यों को भी बेचने की ठान ली. कुछ दिन पहले की बात है जब वह अपने जुआरी दोस्तो के साथ जुआ खेलने बैठा था और पैसे खत्म हो गए। उसने जोश-जोश में अपनी पत्नी को ही दाव पर लगा दिया और बाजी उसके हाथ से चली गयी. फिर क्या था जितने वाले उसी के 2 दोस्तों ने सबके सामने उसे निर्वस्त्र किया और वह अमुक चुपचाप देखता रहा. समाज के लोगो ने भी चुप्पी साध ली क्योंकि उसके पति ने ही अपनी पत्नी की आबरू को नीलाम कर दिया था.

चुप रहे देखने वाले

आजतक आपने कभी भी इतने शर्मनाक घटना के बारे में नही सुना होगा लेकिन इस कलयुगी पति ने अपनी ही पत्नी को बेच दिया और सरेआम उसके वस्त्र उतार कर एक महिला के आबरू से खेला गया. सब चुप-चाप देखते रहे और वो दोनो उस महिला के आबरू से खेलते रहे. इंदौर की इस घटना के बारे में जिसने भी सुना दिल दहल उठा. सिर्फ इतना ही नही बल्कि कानून ने भी इसके खिलाफ कोई कदम नही उठाया, आखिर एक पति को ये हक तो कदापि नही मिलता कि वो पत्नी की इज्जत को बेच सके.

Source

You May Also Like